news

सोने की कीमतों में रिकॉर्ड तेजी के चलते जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान देश में सोने की मांग 17% घटी: WGC

Gold Demand Trend: इस तिमाही में वैश्विक स्तर पर सोने की मांग सालाना आधार पर 13 प्रतिशत घटकर 1,080.8 टन रह गई.

Gold Demand In India: साल 2022 की पहली तिमाही में सोने के आभूषणों की मांग 94.2 टन थी.

नई दिल्ली: Gold Demand India 2023 : वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (WGC) के अनुसार जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान भारत की सोने की मांग 17 प्रतिशत घटकर 112.5 टन रह गई. यह गिरावट सोने की कीमत (Gold Price) रिकॉर्ड स्तर पर चढ़ जाने और कीमतों में भारी उतार-चढ़ाव के कारण हुई. डब्ल्यूजीसी के गोल्ड डिमांड ट्रेंड (Gold Demand Trend) के मुताबिक, साल 2022 में समान तिमाही के दौरान सोने की कुल मांग 135.5 टन थी.

डब्ल्यूजीसी के क्षेत्रीय सीईओ (भारत) सोमसुंदरम पी आर ने पीटीआई-भाषा से कहा, ”वर्ष 2023 की पहली तिमाही में भारत की सोने की मांग सालाना आधार पर 17 प्रतिशत गिरकर 112.5 टन हो गई. ऐसा कीमतों के रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ जाने और उतार-चढ़ाव के चलते हुआ.” इससे बाजार की धारणा प्रभावित हुई और सोने के आभूषणों ( Gold Jewellery) की मांग 2022 की पहली तिमाही में 94.2 टन से घटकर जनवरी-मार्च 2023 में 78 टन रह गई.

इस तिमाही में वैश्विक स्तर पर सोने की मांग सालाना आधार पर 13 प्रतिशत घटकर 1,080.8 टन रह गई. इससे एक साल पहले इसी तिमाही में यह मांग 1,238.5 टन थी. इस तरह देखा जा सकता है कि वैश्विक स्तर से लेकर घरेलू स्तर तक सोने की डिमांड घटी है. 

Related Articles

Back to top button