random

Economic Crisis : 800 रुपये नींबू! लोग नहीं खरीद पा रहे आटा व जरुरी चीजें…

Economic CrisisPakistan Economic Crisis : आतंकवादियों का शरणस्थल पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। पाकिस्तान अपनी आर्थिक स्थिति को लाख कोशिशों के बाद भी पटरी पर नहीं ला पा रहा है। पाकिस्तान की मुसीबत है कि कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। साथ ही पाकिस्तान छवि भी खराब होती जा रही है। पाकिस्तान जिन देशों के दम उचका करता था अब वे देश भी उससे किनारा करते जा रहे हैं। उसके विषम परिस्थितियों में उसे साथ नहीं दे रहे हैं। चाहे उसके दोस्त अमेरिका की बात हो या चीन की बात हो, कोई मित्र देश इस दुख की घड़ी साथ नहीं आ रहा है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान pakistan के लोगों को भयंकर महंगाई का सामना करना पड़ा रहा है। महंगाई ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

पाकिस्तान pakistan की सांख्यिकी ब्यूरो ने ताजा आंकड़े जारी किए हैं। इसमें बताया गया है कि मुद्रास्फीति मार्च में 35.37 फीसदी पर पहुंच गई है। इसे मार्च में अब तक की सबसे ज्यादा मुद्रास्फीति दर बताया जा रहा है। वहीं आगे और महंगाई बढ़ने की बात कही जा रही है। यह 1965 के बाद सबसे अधिक मुद्रास्फीति का रिकॉर्ड है। इससे पहले मार्च 2022 में मुद्रास्फीति 12.27 फीसदी थी।

Related Articles

Pakistan Economic Crisis पाकिस्तानी अखबार डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में पिछले कई महीनों से जरूरी चीजों के दाम लगातार बढ़ने लगे हैं। सालाना मुद्रास्फीति पिछले साल जून से 20 फीसदी ज्यादा है। वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी अपने मासिक आउटलुक में कहा है कि महंगाई आने वाले दिनों में और बढ़ सकती है। इसके पीछे का कारण ऊर्जा और ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी और केंद्रीय बैंक की नीतियों को माना जा रहा है।

इतना ही नहीं पाक के वित्त मंत्रालय ने भी ये माना है कि नीतियों के बावजूद मुद्रास्फीति उम्मीद के मुताबिक कम नहीं हो रही है। महंगाई की यह हालात रमजान के महीने में भी है। पाकिस्तान में लोग पवित्र महीने में भी फल और आटा नहीं खरीद पा रहे हैं। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि नींबू 800 रुपये किलो बिक रहा है।

Related Articles

Back to top button