news

Stock Market Today: Sensex की टॉप 10 में से 6 कंपनियों का M-cap 2.03 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: TCS, HDFC बैंक, ICICI बैंक, HUL, इन्फोसिस, ITC, SBI, भारती एयरटेल और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा।

सेंसेक्स (Sensex) की टॉप 10 में से छह कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (M-cap) में बीते सप्ताह सामूहिक रूप से 2,03,010.73 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। शेयर बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच सबसे अधिक लाभ में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) रहीं।

M-cap के मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज नंबर 1

बीते सप्ताह BSE का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 780.45 अंक या 1.19 फीसदी के लाभ में रहा। शुक्रवार को सेंसेक्स 66,060.90 अंक के अपने नए सर्वकालिक उच्चस्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की टॉप 10 कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 69,990.57 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 18,53,033.73 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

इन कंपनियों की बाजार हैसियत बढ़ी

TCS की बाजार हैसियत 68,168.12 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 12,85,058.84 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। इन्फोसिस का बाजार मूल्यांकन 39,094.81 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 5,91,547.67 करोड़ रुपये रहा। वहीं भारती एयरटेल के मूल्यांकन में 10,272.84 करोड़ रुपये का उछाल आया और यह 4,95,116.94 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। ICICI बैंक का बाजार पूंजीकरण 10,135.42 करोड़ रुपये की वृद्धि के साथ 6,72,837.72 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। ITC की बाजार हैसियत 5,348.97 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 5,87,951.43 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

टॉप 10 में से इन 4 कंपनियों का M-cap घटा

वहीं दूसरी ओर, HDFC बैंक की बाजार हैसियत 8,695.25 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ 9,19,962.74 करोड़ रुपये पर आ गई। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का बाजार मूल्यांकन 8,299.89 करोड़ रुपये घटकर 5,21,598.94 करोड़ रुपये रह गया। बजाज फाइनेंस का बाजार पूंजीकरण 8,130.77 करोड़ रुपये घटकर 4,53,288.03 करोड़ रुपये रह गया। हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 4,581.7 करोड़ रुपये घटकर 6,28,950.34 करोड़ रुपये पर आ गई।

टॉप 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: TCS, HDFC बैंक, ICICI बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इन्फोसिस, ITC, SBI, भारती एयरटेल और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा।

Related Articles

Back to top button